अप्रैल में कैसी रहेगी बाज़ार की चाल जानिए – मार्किट एक्सपर्ट

जोश में बाजार, अप्रैल सीरीज में कहां लगाएं दांव

आज मार्च वायदा सीरीज के एक्सपायरी के दिन बाजार में काफी उतार-चढ़ाव भरा कारोबार देखने को मिला है। सुस्त शुरुआत के बाद बाजार ने अच्छी रफ्तार पकड़ी थी, लेकिन फिर सपाट कारोबार नजर आया। हालांकि इसके बाद आखिरी घंटे के दौरान बाजार फिर से दिन के ऊपरी स्तरों के आसपास पहुंचने में कामयाब रहा। इस तरह उतार-चढ़ाव भरे दिन बाजार आखिरकार अच्छी बढ़त के साथ बंद हुए हैं।

सेंसेक्स और निफ्टी 0.25 फीसदी से ज्यादा की बढ़त के साथ बंद हुए हैं।। आज के कारोबार में निफ्टी 9183.15 तक पहुंचने में कामयाब हुआ था, जबकि सेंसेक्स ने 29684.54 तक दस्तक दी थी। अंत में निफ्टी 9175 के आसपास बंद हुआ है और सेंसेक्स 29650 के करीब बंद हुआ है।

एप्फ़ से नपस में निवेश

मानस जायसवाल डॉट कॉम के मानस जायसवाल का कहना है कि ट्रेडिंग के लिहाज से एनबीएफसी स्टॉक्स में लिक्विडीटी बढ़ेगी और कैपिटल फर्स्ट, उज्जवीन, मैक्स फाइनेंशिंयल एफएंडओ में लिस्ट होने के बाद लिक्विडीटी भी बढ़ेगी और जिस तरह से इनमें चार्ट पैटर्न बन कर आ रहे है उससे आनेवाले समय में इनमें काफी तेजी देखने को मिल सकती है। उज्जीवन में आनेवाले समय़ में 500 रुपये तक के स्तर देखने को मिल सकता है लिहाजा इनमें गिरावट पर खऱीदारी करने की सलाह होगी।

सेंचुरी टेक्सटाइल में क्षमता काफी है। इसमें अगली सीरीज में 100 -150 रुपये तक की रैली देखने को मिल सकती है। जब तक 980 रुपये के ऊपरी स्तर पर ट्रेड करता है तब तक इसमें हर गिरावट पर खरीदारी करने की सलाह होगी। आरईसी में 175 रुपये के रेजिस्टेंस स्तर को पार किया है। इसमें 176 रुपये के निचले स्तर पर स्टॉपलॉस रख खऱीदारी की जा सकती है।

बीएसई एंड एनएसई के मेंबर दीपन मेहता का कहना है कि मौजूदा समय में बाजार काफी अच्छे ट्रेंड में कारोबार कर रहा है। बजट, नोटबंदी, यूएस इलेक्शऩ और यूपी चुनाव, क्रेडिट पॉलिसी को लेकर जिस तरह अनिश्चितता का माहौल बाजार में बना हुआ था वह पूरी तरह से खत्म हुआ है। हालांकि आनेवाले कंपनी के अर्निंग सीजन के कारण बाजार में थोड़ा उतार-चढ़ाव का माहौल जरुर देखने को मिल सकता है। लेकिन बाजार काफी अच्छा कारोबार रहे हैं और आनेवाले समय में बाजार में ऊपरी स्तर देखने को मिलते रहेंगे।   दिल्ली एनसीआर में बीएस1 और बीएस2 ट्रक पर रोक लगाने की खबर कुछ ऑटो कंपनियों के रिजल्ट पर देखने को मिल सकती है। हालांकि गाड़ियों की डिमांड अधिक होने से इन कंपनियों पर इस खबर से ज्यादा असर नहीं दिखाई देता। वहीं नोटबंदी के बाद टू- व्हीलर सेगमेंट में डिमांड बढ़ी है उससे ऑटो कंपनियों में इसमें इतना असर ना दिखाई दें।

एनबीएफसी स्पेस रिटेल इन्वेस्टर्स के लिए काफी अच्छा है। लिहाजा कैपिटल फर्स्ट, उज्जवीन, मैक्स फाइनेंशिंयल में ध्यान देने की जरुरत है।

एंजेल ब्रोकिंग के मयूरेश जोशी का कहना है कि इंडियाबु्ल्स हाउसिंग फाइनेंस और आईओसी में मौजूदा निवेशकों को बने रहने की सलाह होगी। क्योंकि इंडिया हाउसिंग फाइनेंस कंपनी में एक अच्छे लोन बुक की उम्मीद की जा सकती है। वहीं अफोर्डेबल हाउसिंग को लेकर सरकार की योजनाओं के चलते इनमें तेजी देखने को मिल सकता है और आनेवाले नए साल में डिमांड में बी तेजी देखने को मिल सकती है।

जिस प्रकार से सरकार से इंफ्रास्ट्रक्चर और अफोर्डेबल हाउसिंग योजना को महत्तव दिया है उससे आनेवाले समय में सीमेंट सेक्टर में काफी अच्छी तेजी देखने को मिल सकती है। क्योंकि सरकार की योजना जितनी ही जमीनी- स्तर पर उतारी जायेगी उतना ही  इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर को बढ़ावा मिलेगा। लिहाजा सीमेंट सेक्टर आनेवाले 2-3 सालों के लिए काफी बेहतर प्लेयर नजर आ रहा है। लिहाजा जेके लक्ष्मी और जेके सीमेंट में खरीदारी की जा सकती है।

पावरमायवेल्थ डॉट कॉम के संदीप वागले के मुताबिक एचडीएफसी बैंक में एक नई तेजी की तैयारी नजर आ रही है। इसमें 1450 रुपये के स्तर पर अच्छा ब्रेकआउट देखऩे को मिला है। लिहाजा इसमें अप्रैल फ्यूचर्स में मौजूदा स्तर पर खरीदारी की जा सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *